मैच (9)
डब्ल्यूपीएल (4)
एलएलसीएम (1)
BAN v IRE (1)
न्यूज़ीलैंड बनाम श्रीलंका (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
ZIM v NL (1)
ख़बरें

मक्डॉनल्ड : अगर सब सही रहा तो ग्रीन पहले टेस्ट की एकादश में हो सकते हैं

ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख कोच को उम्मीद है कि वॉर्नर इस दौरे पर बेहतर प्रदर्शन करते नज़र आएंगे

कैमरन ग्रीन को साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध बॉक्सिंग-डे टेस्ट के दौरान उंगली में चोट लगी थी  •  Getty Images

कैमरन ग्रीन को साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध बॉक्सिंग-डे टेस्ट के दौरान उंगली में चोट लगी थी  •  Getty Images

ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन ने टूटी हुई उंगली से ठीक होने की राह में काफ़ी उत्साहजनक प्रगति की है। हालांकि भारत के विरुद्ध नागपुर में खेले जाने वाले पहले टेस्ट में उनका गेंदबाज़ी करना संदिग्ध है।
भारत के लिए रवाना होने से कुछ समय पहले ही ग्रीन को ट्रेनिंग शुरू करने की अनुमति मिली थी और अब उन्होंने नेट्स में कठोर गेंद के साथ बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी करना शुरू कर दिया है। टीम प्रबंधन को इस बात की चिंता रहेगी कि एक महीने क्रिकेट से दूर रहने के बाद क्या उनका शरीर इस कार्यभार को संभाल पाएगा या नहीं। सिडनी से निकलने से पहले प्रमुख कोच ऐंड्रयू मक्डॉनल्ड ने इशारा दिया था कि ग्रीन को बतौर विशेषज्ञ बल्लेबाज़ खिलाया जाएगा।
मक्डॉनल्ड ने शनिवार को अलुर में पत्रकारों को बताया, "मेरे आश्चर्य से पिछले कुछ दिनों में उन्होंने कुछ बड़े क़दम आगे बढ़ाए हैं। इसलिए अगर सब सही होता है तो वह शायद एकादश में हो सकते हैं।"
उन्होंने आगे कहा, "मैं यह नहीं कहूंगा कि गेंदबाज़ी में उन्होंने कोई परेशानी हुई। (बल्लेबाज़ी में) एक गेंद उनके बल्ले के निचले हिस्से पर जा लगी थी और इससे किसी को भी परेशानी हो सकती है। उस उंगली को लेकर सावधानी बरती जा रही है।"
इन सबके बावजूद ग्रीन के गेंदबाज़ी विकल्प में पहले टेस्ट में चुने जाने की संभावना बहुत कम है। सवाल यह है कि ऑस्ट्रेलिया किस संयोजन के साथ मैदान पर उतरना चाहेगा। पिछले महीने सिडनी में साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध नेथन लायन के स्पिन जोड़ीदार के रूप में ऐश्टन एगार की वापसी हुई थी। अनुमान लगाया जा रहा था कि नागपुर में भी दो विशेषज्ञ गेंदबाज़ खिलाए जाएंगे लेकिन कप्तान पैट कमिंस जानते हैं कि ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज़ कितने घातक साबित हो सकते हैं।
कमिंस ने कहा, "मैं नहीं कहूंगा कि (दो स्पिनरों का खेलना) निश्चित है। यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है और हम नागपुर पहुंचने के बाद इस पर विचार करेंगे। मुझे लगता है कि कभी-कभी स्पिनरों की इतनी बात होती है कि हम भूल जाते हैं कि हमारे तेज़ गेंदबाज़ों ने सभी परिस्थितियों में कितना अच्छा किया है।"
कप्तान ने आगे कहा, "यहां पर हमारे पास गेंदबाज़ी के कई विकल्प हैं - उंगलियों की स्पिन, कलाई की स्पिन, बाएं हाथ की स्पिन, वापसी होने पर स्टार्क - इसलिए हम उन गेंदबाज़ों को चुनेंगे जो 20 विकेट ले सकते हैं। अब इनका चयन किस प्रकार होगा हम इसके बारे में निश्चित नहीं है।"
अगर ऑस्ट्रेलिया दो विशेषज्ञ स्पिनरों के साथ जाता है तो कमिंस को लायन के अलावा अनकैप्ड टॉड मर्फ़ी के साथ जाने में कोई आपत्ति नहीं है। ऑस्ट्रेलिया के पास ट्रैविस हेड की पार्ट-टाइम गेंदबाज़ी भी होगी और लेग स्पिनर मिचेल स्वेप्सन एक और विकल्प हैं।
इस पर कमिंस ने कहा, "अगर हम दो स्पिनरों के साथ जाते हैं तो हमें संयोजन बिठाना होगा। क्या हमें विविधता चाहिए या दो ऑफ़ स्पिनर? हम दो ऑफ़ स्पिनरों के साथ जा सकते हैं। ट्रैविस हेड टीम में हैं जो अच्छी ऑफ़ स्पिन करते हैं। चयन करने के लिए हमारे पास बहुत विविधता है।"
वहीं कोच मक्डॉनल्ड का मानना है कि डेविड वॉर्नर भारत में अपने साधारण रिकॉर्ड को बदलने के लिए प्रेरित होंगे। मक्डॉनल्ड ने कहा, "वह (वॉर्नर) भारत की चुनौती के लिए उत्साहित हैं। सभी जानते हैं कि यहां पर कोई सीरीज़ उनके उम्मीदानुसार नहीं गई है। हालांकि जिस तरह वह भारतीय स्पिनरों और तेज़ गेंदबाज़ों से निपटने के लिए और एक सफल दौरा बनाने पर काम कर रहे हैं.. मुझे लगता है कि आप उन्हें पूरी तरह से उत्साहित, पूरी तरह से निवेशित और आगे की चुनौती के लिए पूरी तरह से रिचार्ज होते हुए देखेंगे।"
ऑस्ट्रेलियाई टीम रविवार को बेंगलुरु में एक और अभ्यास सत्र में हिस्सा लेगी। इसके बाद सोमवार को टीम नागपुर के लिए रवाना होंगी।

ऐंड्रयू मक्ग्लैशन ESPNcricinfo में डिप्टी एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।