मैच (9)
इंग्लैंड बनाम साउथ अफ़्रीका (1)
महाराजा टी20 (2)
आयरलैंड बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
द हंड्रेड (महिला) (1)
द हंड्रेड (पुरुष) (1)
ओमान बनाम बहरीन (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
रॉयल लंदन कप (1)
ख़बरें

मुंबई के घरेलू खिलाड़ियों को मिल सकते हैं वार्षिक अनुबंध

रणजी ट्रॉफ़ी 2021-22 की उपविजेता टीम को मिलेगा एक करोड़ रुपये का इनाम

Mohit Avasthi celebrates after dismissing Shubham Sharma to break the 222-run stand with Yash Dubey, Mumbai vs MP, Ranji Trophy 2021-22 final, Bengaluru, June 24, 2022

मुंबई ने इस सीज़न छह साल बाद रणजी ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में प्रवेश किया था  •  PTI

नंबवर 2019 में बीसीसीआई अध्यक्ष पद संभालने के बाद सौरव गांगुली का घरेलू क्रिकेटरों को केंद्रीय अनुबंध देने का किया हुआ मुंबई के क्रिकेटरों के लिए पूरा हो सकता है। 2021-22 के घरेलू सीज़न के बाद मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) के अध्यक्ष विजय पाटिल का मुंबई के घरेलू खिलाड़ियों को अनुबंध देने का प्रस्ताव संघ की ऐपेक्स काउंसल की बैठक में मंज़ूर किया गया है। हालांकि अभी इसे अगस्त में होने वाली वार्षिक जनरल बैठेक में मंज़ूरी का इंतज़ार है।
बीसीसीआई के सिस्टम की तरह सीनियर पुरुष और महिला खिलाड़ियों के लिए वार्षिक अनुबंधों का प्रस्ताव रखा गया है। फ़िलहाल अनुबंधों की संख्या पर अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है लेकिन माना जा रहा है कि बीसीसीआई का अनुबंध प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को इस सूची में शामिल नहीं किया जाएगा ताकि ज़्यादा से ज़्यादा घरेलू खिलाड़ियों को अनुबंध दिया जा सके।
एमसीए के अध्यक्ष पाटिल ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को बताया, "इस साल मुंबई ने घरेलू क्रिकेट में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और हम अपने घरेलू खिलाड़ियों को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करना चाहते थे। साथ ही हमारा उद्देश्य हमारे मौजूदा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को टीम के साथ बरक़रार रखने का था। मुझे लगता है कि यह कॉन्ट्रैक्ट हमें युवा खिलाड़ियों में निवेश करने का अवसर देंगे।"
पाटिल ने आगे ऐपेक्स काउंसिल का आभार व्यक्त किया जिन्होंने सर्व सहमति से इस प्रस्ताव को मंज़ूरी दी। उन्होंने कहा, "मुझे ख़ुशी है कि ऐपेक्स काउंसिल ने हमारे प्रस्ताव को हरी झंडी दिखाई है। सभी टूर्नामेंटों में मुंबई के प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए हर कोई चाहता था कि अनुबंध दिए जाए। यह खिलाड़ियों के प्रति संघ का कर्तव्य है।"
जतिन परांजपे, निलेश कुलकर्णी और विनोद कांबली की एमसीए की क्रिकेट विकास समिती अनुंबधों पर काम करेगी। उम्मीद जताई जा रही है कि सितंबर में शुरू हो रहे 2022-23 सीज़न से पहले अनुबंध दिए जाएंगे।
इस विषय पर पाटिल ने कहा, "क्रिकेट विकास समिती अनुबंधों की श्रेणी, योग्यता के मापदंड, चुने जाने वाले खिलाड़ियों की संख्या जैसी सारी चीज़ों पर काम करेगी जिसके बाद अंतिम फ़ैसला लिया जाएगा। इस फ़ैसले के बाद कुछ ही समय में हम अनुबंधों का वितरण शुरू करेंगे।"
कोरोना महामारी के दौरान देश भर के अनगिनत क्रिकेटरों द्वारा सामना की गई आर्थिक परेशानी के बाद खिलाड़ियों को अनुबंध देने की बात ज़ोर पकड़ रही थी। खिलाड़ियों ने इस निर्णय का स्वागत किया था लेकिन अब भी संदेह बना हुआ है कि कैसे और कब इस पर अमल किया जाएगा।
पिछले साल सितंबर में बीसीसीआई ने घरेलू खिलाड़ियों की मैच फ़ीस में बढ़ोतरी की थी। इसके बाद सीनियर पुरुष खिलाड़ी को प्रति दिन 40 से 60 हज़ार रुपये जबकि सीनियर महिला खिलाड़ी को 20 हज़ार रुपये तक मिलेंगे। हालांकि इसका लाभ देखा नहीं गया क्योंकि बीसीसीआई ने अपने घरेलू सीज़न को छोटा कर दिया था।
उदाहरणस्वरूप रणजी ट्रॉफ़ी को आठ या नौ की बजाय तीन लीग मैचों तक सीमित किया गया था। खिलाड़ियों को उम्मीद है कि बोर्ड पुराने फ़ॉर्मेट पर लौट जाएगा जिससे प्रत्येक टीम को कम से कम आठ या नौ लीग मैच खेलने का अवसर मिलेगा और खिलाड़ियों की आमदनी बढ़ेगी।
रणजी ट्रॉफ़ी उपविजेताओं को एक करोड़ रुपये का इनाम
बीसीसीआई द्वारा विजेता टीम को दिए जाने वाले दो करोड़ रुपये के अलावा मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ ने रणजी ट्रॉफ़ी विजेता टीम को दो करोड़ रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की थी। इसके बाद अब एमसीए ने 2021-22 सीज़न में पृथ्वी शॉ के नेतृत्व में उपविजेता रही टीम के लिए एक करोड़ रुपये का इनाम ज़ाहिर किया है। साथ ही बोर्ड ने बीसीसीआई द्वारा आयु वर्ग की विजेता टीमों को दिए जाने वाली इनाम राशि की बराबरी की है।
घरेलू क्रिकेट में इस सीज़न मुंबई का प्रदर्शन शानदार रहा। सीनियर पुरुष टीम छह सालों बाद रणजी ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में पहुंची, अंडर-25 टीम सीके नायडू ट्रॉफ़ी की विजेता रही और अंडर-19 टीम कूच बेहार ट्रॉफ़ी में उपविजेता बनकर उभरी।
इस इनाम के अलावा एमसीए ने सेवानिवृत्त अंपायरों को 50 हज़ार रुपये और आईपीएल के दौरान काम करने वाले ग्राउंडस्टाफ़ के लिए 25 लाख रुपये के इनाम की घोषणा की। मई में बीसीसीआई सचिव जय शाह ने आईपीएल 2022 के आयोजन में इस्तेमाल किए गए चार मैदान और दो अभ्यास ग्राउंड के ग्राउंडस्टाफ़ और क्यूरेटर के लिए सवा करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी।

अफ़्ज़ल जिवानी(@jiwani_afzal) ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं। शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं।