मैच (13)
आईपीएल (2)
USA vs BAN (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
T20I Tri-Series (1)
ख़बरें

विरोध प्रदर्शन से पहले रावलपिंडी टेस्ट को लेकर इमरान ख़ान ने दिया आश्वासन

पूर्व प्रधानमंत्री की पीसीबी और इंग्लैंड के उच्चायुक्त से मुलाक़ात

Imran Khan, Pakistan's former prime minister, was discharged from hospital earlier this month after an attempt on his life, November 4, 2022

इमरान ख़ान पाकिस्तान में नए सिरे से आम चुनाव कराए जाने की मांग कर रहे हैं  •  Getty Images

मंगलवार को लाहौर में पाकिस्तान में इंग्लैंड के उच्चायुक्त और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के साथ पूर्व प्रधानमंत्री इमरान ख़ान की मुलाक़ात हुई। इस बैठक में पीसीबी को यह आश्वासन दिया गया कि पूर्वनिर्धारित विरोध प्रदर्शन रावलपिंडी में होने वाले पाकिस्तान-इंग्लैंड टेस्ट मैच में किसी तरह की रुकावट पैदा नहीं करेगा।
पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज़ का आग़ाज़ 1 दिसंबर से रावलपिंडी में ही होना है। हालांकि इमरान के राजनीतिक दल पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ द्वारा इस्लामाबाद तक निकाले जाने वाले जुलूस को देखते हुए टेस्ट मैच पर असमंजस की स्थिति बरक़रार थी।
इस्लामाबाद से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित रावलपिंडी से होकर जुलूस को इसी सप्ताह के अंत में गुज़रना था लेकिन 3 नवंबर को वज़ीराबाद में इमरान पर हुए जानलेवा हमले के बाद इस कार्यक्रम को टाल दिया गया।
इमरान ने पिछले सप्ताहांत में यह ऐलान किया कि वह 26 नवंबर को रावलपिंडी में इस जुलूस से जुड़ेंगे और इसके बाद वे राजधानी का रुख़ करेंगे। इसी दिन इंग्लैंड की टीम भी अबू धाबी से इस्लामाबाद की उड़ान भरने वाली है।
पीसीबी के पास रावलपिंडी के अलावा कराची में भी टेस्ट मैच आयोजित कराने का विकल्प है। लेकिन उन्होंने रावलपिंडी में ही टेस्ट मैच आयोजित कराने के अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं।
पीसीबी अध्यक्ष रमीज़ राजा और इंग्लैंड के उच्चायुक्त क्रिस्टियन टर्नर की इमरान से मुलाक़ात उनके ज़मान पार्क स्थित आवास पर हुई, जहां वह अपनी टांग पर लगी गोलियों की चोट से उबर रहे हैं।
भले ही इमरान अभी सत्ता में न हों लेकिन वह अभी भी पाकिस्तान की राजनीति के एक प्रभावशाली व्यक्ति हैं। यह बैठक ख़ुद इसकी गवाही देती है। वह अप्रैल से ही अपने मुल्क में नए सिरे से आम चुनाव कराए जाने की मांग कर रहे हैं और इस संबंध में कई प्रदर्शन जुलूस निकाल चुके हैं जिसमें उन्हें काफ़ी समर्थन मिला है।
ऐसा समझा जाता है कि इमरान ने रमीज़ और उच्चायुक्त टर्नर को यह आश्वासन दिया कि विरोध प्रदर्शन के चलते रावलपिंडी टेस्ट पर किसी तरह का व्यवधान उत्पन्न नहीं होगा। रावलपिंडी के बाद सीरीज़ का अगला टेस्ट मैच 9 नवंबर से मुल्तान में खेला जाएगा जबकि 13 नवंबर से कराची में सीरीज़ का अंतिम टेस्ट मैच खेला जाएगा।

उस्मान समिउद्दीन ESPNcricinfo में सीनियर एडिटर हैं।