मैच (19)
MLC (2)
Men's Hundred (2)
एशिया कप (2)
विश्व कप लीग 2 (1)
Women's Hundred (2)
TNPL (1)
One-Day Cup (7)
IRE vs ZIM (1)
Global T20 (1)
फ़ीचर्स

GT vs CSK रिपोर्ट कार्ड : एम एस धोनी की सूझबूझ से 10वीं बार IPL के फ़ाइनल में पहुंची चेन्नई

थीक्षणा-जाडेजा-चाहर-पथिराना की चौकड़ी ने गुजरात को 15 रनों से हराया

MS Dhoni walks out next to the IPL trophy, Gujarat Titans vs Chennai Super Kings, Qualifier 1, IPL 2023, May 23, 2023

धोनी की सूझबूझ भरी कप्तानी से चेन्नई हुई कामयाब  •  Getty Images

आईपीएल 2023 के क्वालिफ़ायर-1 में चेन्नई सुपर किंग्स ने गुजरात टाइटंस को 15 रनों से हरा दिया। मैच की ख़ास बात रही कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की सूझबूझ भरी कप्तानी और थीक्षणा-जाडेजा-चाहर-पथिराना की चौकड़ी की सफल गेंदबाज़ी। इस जीत के साथ चेन्नई 10वीं बार आईपीएल के फ़ाइनल में पहुंच गई है और गुजरात को अब फ़ाइनल में पहुंचने के लिए क्वालिफ़ायर-2 में एलिमिनेटर के विजेता को हराना होगा। एक नज़र मैच के रिपोर्ट कार्ड पर।
बल्लेबाज़ी
चेन्नई (A) - ऋतुराज गायकवाड़ और डेवन कॉन्वे की सलामी जोड़ी ने 87 रनों की साझेदारी की। ऋतुराज ने सात चौकों की मदद से 60 रन तो कॉन्वे ने 40 रन जोड़े। अजिंक्य रहाणे और अंबाती रायुडू ने 17-17 रनों की पारी खेली तो रवीन्द्र जाडेजा ने 22 रन जोड़े। 15 ओवर तक चार विकेट पर 125 रनों का स्कोर 20वें ओवर तक सात विकेट के नुकसान पर 172 तक पहुंचा।
गुजरात (B) - ऋद्धिमान साहा जल्दी लौट गए तो हार्दिक पंड्या और डेविड मिलर भी मुश्किल पिच पर पैर नहीं जमा पाए। शुभमन गिल ने धीमे विकेट पर ज़िम्मेदारी से बल्लेबाज़ी की और 42 रन जोड़े । 100 का आंकड़ा छूने में गुजरात को 15 ओवर लगे और इस दौरान छह विकेट भी गंवा दिए। शानका ने 17 तो विजय शंकर ने 14 रन जोड़े। आख़िर में राशिद ख़ान ने दो छक्कों और तीन चौकों की मदद से 30 रन बनाकर थोड़ी उम्मीद जगाई लेकिन गुजरात की टीम 20 ओवर 157 रन पर ऑलआउट हो गई।
गेंदबाज़ी
गुजरात (B)- मोहम्मद शमी और मोहित शर्मा के ख़ाते में दो-दो विकेट गए। सलामी साझेदारी तोड़ते हुए मोहित ने गायकवाड़ और महेंद्र सिंह धोनी का विकेट लिया तो शमी ने कॉन्वे और जाडेजा को आउट किया। राशिद ख़ान ने रायुडू को तो नूर अहमद ने शिवम दुबे को चलता किया। चेन्नई की ओर से चार छक्के और 14 चौके लगे। गुजरात की ओर से पांच अतिरिक्त रन भी दिए गए।
चेन्नई (A)- दीपक चाहर ने ऋद्धिमान साहा के विकेट से शुरुआत की। रवींद्र जाडेजा और थीक्षणा ने सही समय पर कसी हुई गेंदबाज़ी की। हार्दिक का विकेट थीक्षणा के हुनर और कप्तान धोनी की रणनीति की वजह से गया। तो जाडेजा ने शानका और मिलर को जल्दी ही समेट दिया। शुभमन गिल का सबसे अहम विकेट चाहर के खाते में गया। तो तुषार देशपांडे ने राशिद को चलता किया। गुजरात के बल्लेबाज़ पांच छक्के और 13 चौके लगा सके। चेन्नई की ओर से 15 अतिरिक्त रन दिए गए।
फ़ील्डिंग
गुजरात (B)- मैदानी फील्डिंग में गुजरात के फील्डर्स ने चुस्ती और समर्पण दोनों ही दिखाया। डेविड मिलर के कैच ने साझेदारी तोड़ने में मदद की तो डीप मिडविकेट पर राशिद ने कॉन्वे का कैच लपका। रायुडू का कैच दसून शानका ने लपका तो कप्तान धोनी का कैच कप्तान हार्दिक ने नहीं जाने दिया।हालांकि विकेट कीपर साहा से कॉन्वे का एक कैच छूटा भी।
चेन्नई (A)- प्वाइंट पर जाडेजा ने हार्दिक का अहम कैच लपका तो कॉन्वे ने गिल का महत्वपूर्ण कैच जाने नहीं दिया। ख़तरनाक लग रहे राशिद ख़ान का कैच भी कॉन्वे के हाथों में ही गया। नालकंडे को रन आउट कर चेन्नई के फील्डर्स ने अपनी चुस्ती-फुर्ती का परिचय दिया। चेन्नई के खिलाड़ियों ने सही समय पर सभी कैच लपके और कप्तान धोनी ने फील्डिंग को सूझबूझ के साथ सजाया।
रणनीति
चेन्नई (A+) - कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने सही समय पर गेंदबाज़ी में बदलाव, सटीक स्थान पर फ़ील्डिंग की जमावट, विरोधी पक्ष से एक कदम आगे रहते हुए मानसिक लड़ाई में जीत हासिल की और हार्दिक पंड्या से आगे रहे। धीमी और मुश्किल पिच पर 172 रनों का टोटल, धोनी की योजना और गेंदबाज़ों और फील्डरों के क्रियान्वयन के चलते पहाड़ जैसा हो गया। चेन्नई ने अपने विनिंग कॉम्बिनेशन वाली टीम में भी कोई बदलाव नहीं किया।
गुजरात (B)- धीमी पिच पर टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला हार्दिक के लिए उलटा पड़ गया। चेन्नई की कसी हुई गेंदबाजी के सामने लगातार विकेट गिरते रहे और रनरेट का दबाव बढ़ता चला गया। इसका तोड़ गुजरात के पास नहीं था । हालांकि उनके पास अभी एक और मौक़ा है और वे अगला मैच जीतकर फ़ाइनल में जगह बना सकते हैं।