फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : अपनी पसंदीदा टीम के ख़िलाफ़ क्या शुभमन कर पाएंगे फ़ॉर्म में वापसी?

गेल को भी करना होगा साबित कि वह अपने देश के गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ भी एक बेहतर बल्लेबाज़ हैं

Shubman Gill goes over the infield, Kolkata Knight Riders vs Royal Challengers Bangalore, IPL 2021, Abu Dhabi, September 20, 2021

इस साल गिल नहीं बना पाए हैं अर्धशतक  •  BCCI

शुक्रवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) अपने लीग चरण के अंतिम सप्ताह में प्रवेश करेगी और मुक़ाबला होगा पश्चिम के पंजाब किंग्स और पूरब के कोलकाता नाइट राइडर्स का। दोनों टीमें अभी प्लेऑफ़ की दौड़ से बाहर नहीं हुई हैं, लेकिन उनके लिए आगे की राह आसान भी नहीं है।
ख़ासकर पंजाब के लिए यह और महत्वपूर्ण है क्योंकि 11 मैचों में उनके पास कोलकाता से दो अंक कम यानि कुल आठ अंक हैं और वह फ़िलहाल अंक तालिका में छठे स्थान पर है। इस मैच में कई अहम खिलाड़ियों की आपसी प्रतिद्वंदिता पर भी नज़र रहेगी।
क्या रसल और नारायण के ख़िलाफ़ राहुल फिर करेंगे कमाल?
केएल राहुल का आंद्रे रसल और सुनील नारायण के ख़िलाफ़ स्ट्राइक रेट लगभग 200 का है, वहीं वरुण चक्रवर्ती के ख़िलाफ़ उनका स्ट्राइक रेट घटकर सिर्फ़ 95 का हो जाता है। वरुण ने उन्हें दो पारियों में एक बार आउट भी किया है। नारायण ने भी राहुल को आठ पारियों में दो बार आउट किया है, जबकि रसल उनके ख़िलाफ़ एक बार भी विकेट नहीं चटका पाए हैं। तो यह देखना अहम होगा कि क्या राहुल जब ओपनिंग के लिए आएंगे तो ओएन मॉर्गन चक्रवर्ती को आक्रमण पर लगाएंगे या नहीं?
हमवतनों के ख़िलाफ़ गेल होते हैं फ़ेल
क्रिस गेल भले ही दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विस्फोटक बल्लेबाज़ों में से हैं लेकिन अपने देश के गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ उनका प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा है। टी20 में नारायण ने उन्हें पांच जबकि रसल ने उन्हें चार बार आउट किया है। गेल की चाहत होगी कि अगर उन्हें मौक़ा मिले तो इस धारणा को भी वह तोड़ देंगे।
कोलकाता के बल्लेबाज़ों को पसंद हैं मोहम्मद शमी
शमी भले ही पंजाब किंग्स के सबसे प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ हैं, लेकिन कोलकाता के बल्लेबाज़ उन्हें बहुत पसंद करते हैं। रसल, दिनेश कार्तिक और मॉर्गन जैसे बल्लेबाज़ों ने उनके ख़िलाफ़ क्रमशः 247, 166 और 168 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए है। हालांकि कोलकाता के ऊपरी क्रम के बल्लेबाज़ों शुभमन गिल और राहुल त्रिपाठी को शमी ने दो-दो बार आउट किया है और कल भी शमी की नज़र इन्हीं दोनों युवा बल्लेबाज़ों पर होगी।
बिश्नोई का जादू
पिछले दो मैचों से अपनी स्पिन का जादू बिखेर रहे रवि बिश्नोई पर लोगों की नज़रें कल भी होंगी। ख़ासकर केकेआर के कप्तान मॉर्गन उनके ख़िलाफ़ विशेष तैयारी से उतरेंगे। बिश्नोई ने तीन पारियों में मॉर्गन को दो बार आउट किया है और इस दौरान इंग्लिश कप्तान का स्ट्राइक रेट भी सिर्फ़ 55 का रहा है।
शुभमन बनाएंगे अर्धशतक?
इस साल गिल को अच्छी शुरुआत तो मिली है लेकिन वह अपनी एक भी पारी को बड़े स्कोर में नहीं बदल सके हैं। यही कारण है कि उनके नाम इस सीज़न में अभी तक एक भी अर्धशतक नहीं है और वह 200 से अधिक रन बनाने वाले सबसे कम औसत के बल्लेबाज़ हैं। हालांकि पंजाब के ख़िलाफ़ वह अपनी ख़राब फ़ॉर्म को तिलांजलि दे सकते हैं, कम से कम आंकड़े तो यही कहते हैं।
गिल ने पंजाब के ख़िलाफ़ छह पारियों में तीन अर्धशतकों की मदद से 72.7 की बेहतरीन औसत से 218 रन बनाए हैं। पिछली चार पारियों में शुभमन ने पंजाब के ख़िलाफ़ तीन अर्धशतक बनाए हैं। दर्शकों को उनसे एक और अर्धशतक व 'फ़ॉर्म में वापसी' की उम्मीद होगी।

दया सागर ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं @dayasagar95