मैच (12)
आईपीएल (2)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

द्रविड़ : अगर श्रेयस मैच फ़िट हैं तो वह सीधे टीम में आएंगे

पीठ की चोट के कारण नागपुर टेस्ट में नहीं खेल सका था यह मध्यक्रम का बल्लेबाज़

Shreyas Iyer plays the pull shot, Bangladesh vs India, 2nd Test, Mirpur, 2nd Day, December 23, 2022

बांग्लादेश के ख़िलाफ़ सीरीज़ के दौरान पुल खेलते श्रेयस (फ़ाइल फ़ोटो)  •  AFP/Getty Images

भारतीय बल्लेबाज़ श्रेयस अय्यर पीठ की चोट से उबरने के बाद दिल्ली टेस्ट में वापसी के लिए तैयार हैं। हालांकि इसके पहले उन्हें फ़िटनेस टेस्ट देना होगा। भारतीय कोच राहुल द्रविड़ ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस में यह जानकारी दी।
उन्होंने कहा, "अगर अय्यर पूरी तरह से मैच फ़िट होते हैं तो वह सीधे टीम में आएंगे। हालांकि हम उनका आंकलन करेंगे। आज उन्होंने लंबा ट्रेनिंग किया। कल के अभ्यास के बाद ही हम उनके बारे में कुछ फ़ैसला कर सकेंगे। लेकिन अगर वह मैच फ़िट हैं तो वह सीधे टीम में आएंगे। उनका प्रदर्शन ऐसा रहा है कि उन्हें बाहर नहीं रखा जा सकता।"
न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ डेब्यू टेस्ट में शतक लगाने के बाद श्रेयस ने पीछे मुड़कर नहीं देखा है। ख़ासकर एशियाई परिस्थितियों में स्पिन गेंदबाज़ों के विरूद्ध वह बहुत सफल हुए हैं और इस दौरान उन्होंने कई मैच-जिताऊ और मैच-बचाऊ पारियां खेली हैं।
द्रविड़ ने उनके कानपुर डेब्यू मैच की दोनों पारियों की चर्चा की। इसके अलावा हाल ही में उन्होंने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ आर अश्विन के साथ मिलकर मैच-जिताऊ साझेदारी की थी, द्रविड़ ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस में उसका भी ज़िक्र किया। द्रविड़ ने यह भी संकेत दिए कि वह सूर्यकुमार यादव की जगह लेंगे।
उन्होंने कहा, "अगर कोई खिलाड़ी लगातार योगदान दे रहा है और चोट के कारण टीम से बाहर हुआ है, तो फ़िट होने के बाद उस जगह पर पहला हक़ उसका ही है। यह कोई लिखित नियम नहीं है, लेकिन हम उसके योगदान को भूला नहीं सकते। श्रेयस ने स्पिन के विरूद्ध अच्छा खेला है और उनका टेंपरामेंट भी बेहतरीन है। कई ऐसे मौक़े भी आए हैं, जब उन्होंने दबाव से टीम को उबारते हुए जीत दिलाई है। ऐसा वह अपने पहले मैच से करते आ रहे हैं।"
द्रविड़ ने आगे कहा, "श्रेयस ने काफ़ी लंबा समय घरेलू क्रिकेट में बिताया है और उनको पता है कि कैसे रन बनाने हैं। उन्हें पता है कि दबाव की स्थिति में कैसे टेंपरामेंट दिखाना है और कैसे बाहर निकलना है। उनका करियर बहुत छोटा रहा है लेकिन छोटे से करियर में ही उन्होंने बहुत प्रभावित किया। टीम में उनका वापस आना सुखद है और इस जगह को वह डिज़र्व करते हैं। जो टीम में उनकी जगह पर आया है, उन्हें भी पता है कि वह किसी चोटिल खिलाड़ी की जगह टीम में आए हैं और उसके फ़िट होने पर उन्हें संभवतः जगह खाली करनी होगी।"

कार्तिक कृष्णस्वामी ESPNcricinfo में सीनियर सब ए़डिटर हैं