मैच (19)
आईपीएल (1)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (4)
T20WC Warm-up (3)
ख़बरें

ऋतुराज गायकवाड़ में विश्वास के रूप में सीएसके ने 'बेहद ख़ास पारी' का किया अनुभव

"यह मेरी शीर्ष पारियों में से एक है क्योंकि हम दबाव में थे, वरिष्ठ बल्लेबाज़ आउट हो गए थे और मुझे पारी को संभालना था।"

Sidharth Monga
Sidharth Monga
20-Sep-2021
Ruturaj Gaikwad celebrates his half-century, Chennai Super Kings vs Mumbai Indians, IPL 2021, Dubai, September 19, 2021

ऋतुराज ने इस पारी को अपनी सर्वश्रेष्‍ठ पारियों में से एक बताया  •  BCCI

आईपीएल टीमों के लिए अगर कुछ गर्व करने वाली बात है तो वह यह है वे अगले बड़े खिलाड़ियों को मौक़ा देने में गर्व महसूस करती है। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के लिए ऋतुराज गायकवाड़ पिछले साल वह अगले बड़े खिलाड़ी थे। इसके बाद उनके लिए सबकुछ ठीक नहीं गया। गायकवाड़ ख़ुद भी कोरोना पॉज़िटिव हो गए और जब वह वापस आए तो उनकी शुरुआत ख़राब रही। पहले तीन मैचों में उनका स्कोर 0, 5, 0 था।
अगर कोई ऐसी टीम है जहां पर आप ख़राब शुरुआत कर सकते हो तो वह सीएसके ही है। उनका टीम प्रबंधन अपने खिलाड़ियों और अपने फ़ैसलों पर विश्वास रखते हैं। गायकवाड़ ने मैच के बाद कहा, "जब माही भाई [एमएस धोनी] आपके पास हों और सीएसके प्रबंधन में हर कोई आप पर एक बार अगर विश्वास जता दे तो वे आपको कुछ भी चिंता करने नहीं देते हैं। जब हमेशा सकारात्मक रहना होता है। अच्छा माइंड सेट रखना होता है, इससे बेशक मदद मिलती है।"
पिछले सत्र जब ख़त्म हुआ तो गायकवाड़ तीन लगातार अर्धशतक लगा चुके थे और वह भी 126 से 136 के बीच के स्ट्राइक रेट से। इनमें से दो तो आसान से लक्ष्य का पीछा करते हुए आए और तीसरे में रवींद्र जाडेजा ने मदद की जहां पर उन्होंने 11 गेंद में 31 रन बनाए। इस मैच से पहले उन्होंने पांच पारियों में 150 के स्ट्राइक रेट से 30 या उससे ज़्यादा रन बनाए।
यह सत्र देखें तो गायकवाड़ ने बड़ी शुरुआत की, लेकिन टीम में उनका रोल कुछ इस तरह से है कि उनके आसपास खेलने वाले खिलाड़ी ज़्यादा स्ट्राइक रेट से रन बना सकें। उनको पारी के दूसरे हाफ़ में ही नेतृत्व करने को कहा जाता है।
इस मैच में, एक ऐसी टीम के ख़िलाफ़ (मुंबई इंडियंस) जहां पिछले मैचों में हार जीत का आंकड़ा 1-6 रहा हो, तो गायकवाड़ की पारी सबकुछ बयां कर देती है, जहां उनकी टीम ढहने की कगार पर थी। उन्होंने अपने कॉलर खड़े किए और पारी के अंत तक क्रीज़ पर खड़े होने की कोशिश की और आख़िरी पांच ओवरों में बढ़त ले ली। उनकी हिटिंग साफ़ थी और इसमें जसप्रीत बुमराह पर रन बनाने के अलावा ट्रेंट बोल्ट को टी20 क्रिकेट में उनके सबसे ख़राब ओवर का अहसास कराना भी शामिल था। जब यह समय आता है जहां आपने किसी खिलाड़ी पर विश्वास जताया और वह ऐसा प्रदर्शन करके दिखाए तो टीम प्रबंधन को सुखद अहसास होता है।
सीएसके के कोच स्टीफ़न फ़्लेमिंग ने कहा "पिछले कुछ समय से हम उन पर नज़रें गड़ाए बैठे थे। पिछली बार भी हमने उन पर विश्वास जताया, क्योंकि कोरोना की वजह से उन्हें लय में आने में समय लगा, लेकिन हमें उनकी क़ाबिलियत पर पूरा विश्वास था।"
"आज की यह पारी बहुत ख़ास थी। बड़े स्कोर के मैच में ऐसी पारी खेलना इतना ख़ास नहीं है, लेकिन जब आप अपनी टीम को एक मौक़ा देने के लिए ऐसी पारी खेलते हो तो यह बहुत ख़ास हो जाती है। जिस तरह से उसने अपना काम किया, दबाव को झेला और अंत में अपनी क़ाबिलियत दिखाई। इसी वजह से हम मैच में वापसी कर पाए। यह सच में बहुत ख़ास पारी थी।"
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के स्मार्ट स्टैट्स भी इस ख़ास पारी को दर्शाता है। गायकवाड़ ने 88 रन बनाए लेकिन स्मार्ट स्टैट्स के मुताबिक़, पारी के चरण को देखते हुए और जिस तरह की गेंदबाजी का सामना करना पड़ा, उस लिहाज़ से गायकवाड़ की पारी 114.14 रनों के बराबर थी।
गायकवाड़ ने कहा, "बेशक, यह मेरी अभी तक की शीर्ष पारियों में से एक थी, क्योंकि दबाव हम पर था। जल्दी विकेट गिर गए थे, सभी वरिष्ठ बल्लेबाज़ पवेलियन लौट चुके थे। मुझे पारी को संभालना था, 10 से 12 ओवर बल्लेबाज़ी करनी थी, ख़ुद को समय देना था। बस साझेदारी बनानी थी और इसके बाद टीम को 120 से 130 तक पहुंचाना था और बाद में हो सके तो 140 रन तक, लेकिन हमने 150 रन बनाए। मुझे लगता है कि यह बस विकेट पर समय बिताने वाली बात थी।"

सिद्धार्थ मोंगा ESPNcricinfo में असिस्‍टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।