मैच (9)
IPL (2)
ACC Premier Cup (4)
SA v SL (W) (1)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

शांतो : अगले मैच में हमें अच्छी स्टार्ट को 160-170 में तब्दील करना होगा

बांग्लादेश के लिए ज़िम्बाब्वे पर जीत में ख़राब फ़ॉर्म में चल रहे दो खिलाड़ी प्रमुख नायक साबित हुए

ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ मैच से पहले नाजमुल हुसैन शांतो और मुस्तफ़िज़ुर रहमान, दोनों पर काफ़ी दबाव था। दोनों खिलाड़ी ख़राब फ़ॉर्म से जूझ रहे थे और टीम के प्रदर्शन को देखते हुए उनके स्थान पर सवालिया निशान लग रहे थे। हालांकि ब्रिस्बेन के मैदान पर यही दो खिलाड़ी दोनों टीमों के बीच का अंतर बने। शांतो ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर (71) बनाया तो वहीं मुस्तफ़िज़ुर अपने चिर परिचित किफ़ायती अंदाज़ में चार ओवर में 15 रन देकर दो विकेट ले गए।
शांतो ने 55 गेंदों की पारी में सात चौके और एक छक्का लगाया और उन्होंने मैच के बाद कहा, "यह मेरे लिए ख़ास दिन था क्योंकि टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में यह मेरी पहली अर्धशतकीय पारी थी। मैंने कई बार अच्छे स्टार्ट किए लेकिन उन्हें बड़े स्कोर में बदल नहीं पाया था। आज मैं लंबा खेलने का मन बनाकर आया था और यह इस प्रारूप में मेरी सबसे बेहतरीन पारी थी।"
उन्होंने आगे कहा, "यह कहना सही नहीं होगा कि मेरे ऊपर ज़्यादा दबाव था। टीम प्रबंधन, कप्तान और सीनियर खिलाड़ियों ने हमेशा मेरा समर्थन किया है। मैं स्ट्राइक रेट के बारे में चिंतित नहीं था। मैंने हर गेंद को टीम की स्थिति के हिसाब से खेलने की कोशिश की। अगले मैच में हम पावरप्ले में ज़्यादा तेज़ी से रन बनाना चाहेंगे। हम प्लान के हिसाब से ही खेलेंगे।"
अगर शांतो ने आज से पहले इस साल 14 पारियों में 104.84 के स्ट्राइक रेट और 18.30 की औसत से केवल 238 रन बनाए थे, साल 2022 मुस्तफ़िज़ुर का भी निराशाजनक रहा था। उन्होंने टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 48 की औसत और आठ के ऊपर की इकॉनमी से लगभग हर 35 गेंदों पर विकेट झटके थे। संयोग से 2021 उनके लिए उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ साल रहा था जब उन्होंने 17.39 की औसत से एक साल में सर्वाधिक 28 विकेट लिए थे। उनके इस साल के फ़ॉर्म के चलते बांग्लादेश तेज़ गेंदबाज़ी क्रम की अगुआई अब तस्कीन अहमद करने लगे हैं। आज के मैच में भी तस्कीन ने नई गेंद से धारदार गेंदबाज़ी की और जब मुस्तफ़िज़ुर भी लय में आते दिखे तो ज़िम्बाब्वे के बल्लेबाज़ी क्रम के लिए 151 का स्कोर हमेशा थोड़ा कठिन होने वाला था।
शांतो ने कहा, "हमें लगा था हम 15-20 रन पीछे थे लेकिन हमें अपने गेंदबाज़ों पर भरोसा था। अगले मैच में हमें सुनिश्चित करना होगा कि अगर हमें अच्छी स्टार्ट मिले तो हम उसे 160-170 के स्कोर में तब्दील करें। हमारे गेंदबाज़ अच्छी लय में हैं और किसी भी स्कोर का बचाव कर सकते हैं।"
बांग्लादेश को उम्मीद होगी कि उनके गेंदबाज़ बचे मैचों में फ़ॉर्म को बरक़रार रखेंगे। बल्लेबाज़ी गुट में शायद अभी भी सही संतुलन की तलाश है और टीम को समझना होगा कि सात बल्लेबाज़ पर्याप्त हैं या आठ। फिर भी रविवार जैसे उत्साहवर्धक दिन अगले सप्ताह के भीतर भारत और पाकिस्तान के विरुद्ध कठिन परीक्षाओं से पहले टीम के हौसलों को बढ़ाएंगी।

मोहम्मद इसाम (@isam84) ESPNcricinfo के बांग्लादेशी संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo के सीनियर असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।