ख़बरें

जब तक शरीर साथ देगा, मैं फ़्रेंचाइज़ी क्रिकेट खेलता रहूंगा : ड्वेन ब्रावो

वेस्टइंडीज़ के इस दिग्गज ऑलराउंडर ने संकेत दिया है कि वह भविष्य में एक कोचिंग भूमिका में आना चाहेंगे

Dwayne Bravo receives a guard of honour on his farewell appearance for West Indies, Australia vs West Indies, Men's T20 World Cup 2021, Super 12s, Abu Dhabi, November 6, 2021

ड्वेन ब्रावो को वेस्टइंडीज़ के लिए अपने अंतिम मैच से पहले 'गार्ड ऑफ़ ऑनर' मिला  •  ICC via Getty

ड्वेन ब्रावो अब टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में वेस्टइंडीज़ का प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे। वह पहले ही टेस्ट और वनडे क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और अब वह दुनिया भर की टी20 लीग में अपना जलवा बिखेरेंगे।
38 वर्षीय ब्रावो ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि यह टी20 विश्व कप वेस्टइंडीज़ के साथ उनका आख़िरी टूर्नामेंट होगा। ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ आठ विकेटों की हार के साथ इस टूर्नामेंट में गत चैंपियन टीम का सफ़र ख़त्म हुआ।
ब्रावो ने अबू धाबी में मैच के बाद कहा, "जब तक मेरा शरीर मुझे अनुमति देगा, मैं कुछ और वर्षों तक फ्रेंचाइज़ी क्रिकेट खेलना जारी रखूंगा। मेरा उद्देश्य कुछ साल पहले रिटायर होने का था, लेकिन क्रिकेट वेस्टइंडीज़ के अध्यक्ष पद में परिवर्तन और नेतृत्व में परिवर्तन के साथ हृदय परिवर्तन होता है। मैं वेस्टइंडीज टीम के लिए योगदान देना चाहता था क्योंकि मैं शारीरिक रूप से अच्छी स्थिति में था और अपने खेल का आनंद ले रहा था।"
2004 में अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू करने वाले ब्रावो ने अक्तूबर 2016 से जनवरी 2020 तक वेस्टइंडीज़ के लिए कोई मैच नहीं खेला था। 2020 की शुरुआत में कायरन पोलार्ड के कप्तान बनने के बाद उन्होंने टीम में वापसी की थी।
ब्रावो ने बताया, "पोलार्ड के साथ मेरी बातचीत के दौरान मैंने कहा था कि मैं वापस आकर सबसे छोटे फ़ॉर्मेट में खेलना चाहूंगा जो मेरी विशेषता है और उन्होंने मुझे फिर से खेलने का मौक़ा दिया, इसलिए मैं उनका आभारी हूं।"
जबकि ब्रावो ने यह स्पष्ट कर दिया था कि यह विश्व कप उनका आख़िरी होगा, ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ मैच में क्रिस गेल को भी विदाई दी गई। आउट होने के बाद उन्होंने स्टैंड्स में मौजूद दर्शकों का अभिवादन किया और सीमा रेखा के बाहर आने पर ब्रावो और आंद्रे रसल ने उन्हें गले लगाया। बाद में उन्होंने अपनी क्रिकेट किट की कुछ सामग्री प्रशंसकों को तोहफ़े में दी। हालांकि गेल ने बाद में बताया कि उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट ने संन्यास नहीं लिया है और उन्हें अपने घरेलू मैदान पर अंतिम मैच खेलने की उम्मीद है।
"मुझे लगता है कि यह मेरे लिए खेल से दूर जाने और अगली पीढ़ी के युवा खिलाड़ियों को, जिनके साथ मेरी बहुत अच्छी दोस्ती है, टीम मे आने देने का सही समय था," ब्रावो ने कहा। जबकि वह टी20 लीग में क्रिकेट खेलते रहना चाहते हैं, ब्रावो ने बताया कि खिलाड़ी के तौर पर अपना करियर समाप्त करने के बाद वह कोच की भूमिका निभाना चाहते हैं।
उन्होंने कहा, "आख़िरकार अगर मैं क्रिकेट से दूर जाने का फ़ैसला करूंगा, तो मैं कोचिंग विभाग में वापस आना पसंद करूंगा। इसलिए मैंने पहले से ही तैयारी शुरू कर दी है। जैसा मैंने कहा, क्रिकेट ने मुझे सब कुछ दिया है। क्रिकेट ने मुझे वह जीवन दिया है जो मैं हमेशा अपने और अपने परिवार के लिए चाहता था। इसलिए यह उचित है कि मैं इस खेल को वापस देना पसंद करूंगा। मैं, वेस्टइंडीज़ और दुनिया भर में जिस भी टीम के साथ खेलता हूं, वहां आने वाली युवा प्रतिभा के कारण ख़ुद को प्रोत्साहित करता रहता हूं, तो निश्चित रूप से आप मुझे कोच की भूमिका में देखेंगे।"

सौरभ सोमानी ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।