टी20 विश्वकप यानि क्रिकेट के सबसे छोटे फ़ॉर्मेट का सबसे बड़ा मंच, जहां इस बार 16 टीमों के बीच जंग देखने को मिलेगी। 2007 से शुरू हुई इस प्रतियोगिता का ये सातवां संस्करण है। वैसे तो टी20 क्रिकेट को युवाओं का क्रिकेट भी कहा जाता है, लेकिन आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि इस सातवें संस्करण में कुछ ऐसे भी खिलाड़ी हैं; जो 2007 में खेले गए पहले विश्वकप से लेकर सभी के सभी छह टी20 विश्वकप का हिस्सा थे और अब इस बार भी वे अपनी टीम का हिस्सा होंगे। चलिए मिलते हैं उन खिलाड़ियों से जिन्होंने अब तक एक भी टी20 विश्वकप मिस नहीं किया है।

1. क्रिस गेल, वेस्टइंडीज़

इस फ़ेहरिस्त में पहला नाम आता है उस खिलाड़ी का जिसे इस फ़ॉर्मेट का किंग कहा जाता है, और वह है यूनिवर्स बॉस। जी हां हम बात कर रहे हैं क्रिस गेल की। वेस्टइंडीज़ का ये दिग्गज बल्लेबाज़ टी20 फ़ॉर्मेट का सबसे बड़ा खिलाड़ी तो है ही, टी20 विश्वकप में भी गेल का कोई सानी नहीं है। गेल ने कुल 28 टी20 विश्वकप के मुक़ाबले खेले हैं, और इसमें 40 की औसत और 146.73 के स्ट्राइक रेट से उन्होंने दो शतकों के साथ 920 रन बनाए हैं। इतना ही नहीं गेल के नाम तो एक अद्भुत रिकॉर्ड भी है, 2007 टी20 विश्वकप के पहले ही मैच में गेल ने मेज़बान साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ शतक ठोक दिया था, उन्होंने उस मैच में 57 गेंदों पर 117 रनों की पारी खेली थी।

इसके बाद अगले टी20 शतक के लिए गेल को नौ साल का इंतज़ार करना पड़ा था, और वह 2016 टी20 विश्वकप में उन्होंने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ मुंबई में जड़ा था। इस बार भी गेल धूम मचाने को तैयार हैं।

2. रोहित शर्मा, भारत

अब बात सफ़ेद गेंद के सबसे बड़े बल्लेबाज़ रोहित शर्मा की, मौजूदा समय में टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज़्यादा चार शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाने वाले रोहित भी उन खिलाड़ियों में शामिल है जिन्होंने सभी टी20 विश्वकप में शिरकत की है। गेल ने अपने डेब्यू टी20 विश्वकप में जहां शतक लगाया था तो रोहित टी20 विश्वकप की अपनी पहली पारी में अर्धशतक जड़ा था। इत्तेफ़ाक़ देखिए, रोहित ने भी ये कारनामा साउथ अफ़्रीका के ही ख़िलाफ़ किया था।

सेमीफ़ाइनल में जगह बनाने के लिए भारत को डरबन में साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ अहम मुक़ाबला खेलना था, जहां रोहित शर्मा ने नाबाद 50 रन बनाए थे और फिर भारत ने वह मुक़ाबला अपने नाम किया था। रोहित को उस पारी के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच से भी नवाज़ा गया था। हालांकि रोहित की वह पहली पारी ज़रूर थी लेकिन डेब्यू मैच नहीं था, क्योंकि रोहित का टी20 विश्वकप में डेब्यू उससे पिछले मैच में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ हो चुका था। जी हां वही युवराज सिंह के छह छक्कों वाला मैच। पर तब रोहित को बल्लेबाज़ी का मौक़ा नहीं मिला था। रोहित के नाम अब तक 28 टी20 विश्वकप मुक़ाबलों में 39.58 की औसत से 673 रन हैं। इस बार भी रोहित के कंधों पर बड़ी ज़िम्मेदारी होगी क्योंकि वह टीम इंडिया के उप-कप्तान भी हैं।

3. महमुदउल्लाह, बांग्लादेश

इस लिस्ट में अगला नाम आता है बांग्लादेश के बेहतरीन ऑलराउंडर महमुदउल्लाह का, इस खिलाड़ी ने भी अब तक सभी टी20 विश्वकप में अपने देश का प्रतिनिधित्व किया है। उन्होंने इन सभी टी20 विश्वकप में शिरकत करते हुए अब तक 25 मैच खेले हैं, जिनमें उनके नाम 284 रन और आठ विकेट है। 2021 टी20 विश्वकप में तो महमुदउल्लाह पर बांग्लादेश की कप्तानी की भी ज़िम्मेदारी है और उन्होंने क्वालीफ़ायर मुक़ाबलों में अच्छा प्रदर्शन करते हुए टीम को सुपर-12 में पहुंचा भी दिया है।

4. शाकिब अल हसन, बांग्लादेश

अब तक हुए सभी टी20 विश्वकप में शिरकत करने वाली इस फ़ेहरिस्त में अगला नाम भी एक और बांग्लादेशी दिग्गज ऑलराउंडर का है - शाकिब अल हसन। शाकिब ने भी अब तक टी20 विश्वकप में 25 मुक़ाबले खेले हैं। हैं। इस दौरान बल्ले से जहां उनके 29.34 की औसत से 675 रन हैं तो गेंद से भी इस बाएं हाथ के स्पिनर ने 16.41 की बेहतरीन औसत से 39 विकेट झटके हैं। इस सुपरस्टार खिलाड़ी का जलवा क्वालीफ़ायर से ही देखने को मिल रहा है, जहां दो बार प्लेयर ऑफ़ द मैच रहते हुए उन्होंने अपनी टीम को सुपर-12 में पहुंचाने में बड़ा किरदार निभाया है। स्कॉटलैंड के ख़िलाफ़ इस विश्वकप में शाकिब टी20 अंतर्राष्ट्रीय में सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ भी बन गए हैं।

5. मुशफ़िकुर रहीम, बांग्लादेश

बांग्लादेश के एक और दिग्गज खिलाड़ी मुशफ़िकुर रहीम भी उन चुनिंदा खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्होंने सभी टी20 विश्वकप में अपने देश का प्रतिनिधित्व किया है और इस बार भी वह यूएई में होने वाले टी20 विश्वकप दल का हिस्सा हैं। रहीम ने 28 टी20 विश्वकप मैच खेले हैं और इस दौरान उनके नाम 307 रन हैं।

6. ड्वेन ब्रावो, वेस्टइंडीज़

टी20 क्रिकेट में अगर बल्लेबाज़ी के मामले में क्रिस गेल बॉस हैं तो फिर इस फ़ॉर्मेट में गेंद से चैंपियन हैं ड्वेन ब्रावो। एक और कैरेबियाई खिलाड़ी जो यूएई में होने वाले टी20 विश्वकप का हिस्सा है और इस फ़ेहरिस्त में शामिल है क्योंकि ब्रावो ने अब तक सभी टी20 विश्वकप में शिरकत की है। ब्रावो के नाम इस स्पेशल सूची में शामिल सभी खिलाड़ियों से ज़्यादा मैच हैं, उन्होंने अब तक 29 टी20 विश्वकप मैच खेले हैं। उन्होंने इस दौरान 24.00 की औसत से 504 रन बनाए हैं तो 25.80 की औसत से 25 विकेट भी झटके हैं। ब्रावो ने पहले ही घोषणा कर दी है कि ये उनका आख़िरी टी20 अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट होगा, लिहाज़ा इसे यादगार बनाने के लिए वह कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगे।

सैयद हुसैन ESPNCricinfo हिंदी में मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट हैं।@imsyedhussain