मैच (19)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

ग्रुप-2 समीकरण : अफ़ग़ानिस्तान पर बड़ी जीत के साथ भारत की उम्मीद बरक़रार

भारत की निगाहें अब 7 नवबंर को अफ़ग़ानिस्तान और न्यूज़ीलैंड के बीच होने वाले मुक़ाबले पर रहेगी

विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह विकेट गिरने के बाद एक दूसरे को बधाई देते हुए  •  ICC/Getty Images

विराट कोहली और जसप्रीत बुमराह विकेट गिरने के बाद एक दूसरे को बधाई देते हुए  •  ICC/Getty Images

बुधवार को अफ़ग़ानिस्तान को भारत ने 66 रनों से हरा दिया। इसका साफ़ मतलब है कि अगर आने वाले मैचों में न्यज़ीलैंड की टीम किसी भी तरीक़े की ग़लती करती है तो उसका लाभ भारत को मिल सकता है। हालांकि ऐसा होना थोड़ा मुश्किल नज़र आता है। इसके साथ ही अफ़ग़ानिस्तान की टीम भी सेमीफ़ाइनल की दौड़ में बनी हुई है।
आइए नज़र डालते हैं कि सेमीफ़ाइनल की दौड़ में किन टीमों के क्या-क्या समीकरण हैं।

भारत

भारत ने अब तक 3 मैच खेले हैं। उनके खाते में एक जीत और दो हार के साथ सिर्फ़ 2 प्वाइंट है। अभी उनका नेट रन रेट 0.073 है। भारतीय टीम के अभी 2 मैच बचे हुए हैं, जिनमें उनका सामना स्कॉटलैंड और नामीबिया से होना है। अगर भारत इन दोनों मैचों में 180 रन बना कर 60-60 रनों से जीत लेता है तो भारत का नेट रेट 1.303 तक पहुंच सकता है। ऐसी परिस्थिति में अगर अफ़ग़ानिस्तान की टीम न्यूज़ीलैंड को 150 रन बना कर 12 रनों से भी हराती है तो उसका नेट रन रेट भारत से बेहतर हो जाएगा।
इस बीच न्यूज़ीलैंड, अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ अपने आख़िरी मैच से पहले नामीबिया को हरा कर अपने एनआरआर में सुधार करने की उम्मीद कर रहा होगा। अगर भारत, स्कॉटलैंड को हरा देता है और न्यूज़ीलैंड अपने आख़िरी दो मैचों में से एक हार जाता है तो भारत नामीबिया के ख़िलाफ़ एक बड़ी जीत दर्ज कर के टूर्नामेंट में आगे बढ़ने का प्रयास करेगा। भारत के पास फ़ायदा यह है कि अगर वे ग्रुप का आख़िरी मैच खेलते हैं तो उन्हें पता होगा कि क्वालीफ़ाई करने के लिए उन्हें क्या करने की ज़रूरत है।

न्यूज़ीलैंड

न्यूज़ीलैंड ने अभी तक 3 मैच खेले हैं जिसमें उन्हें दो जीत के साथ 4 प्वाइंट प्राप्त हुए हैं। उनका नेट रन रेट फ़िलहाल 0.816 है। उनको अभी दो मैच खेलना है, जिसमें उन्हें अफ़ग़ानिस्तान और नामीबिया का सामना करना है। आज खेले गए मैच में स्कॉटलैंड को भले ही न्यूज़ीलैंड की टीम हराने में क़ामयाब रही लेकिन रनों का अंतर काफ़ी कम था। इसके बाद उनका नेट रन रेट 0.765 से 0.816 हो गया। अगर वह नामीबिया के ख़िलाफ़ 180 रन बनाते हैं और 60 रनों से जीत दर्ज करने में क़ामयाब रहते हैं तो उनका नेट रन रेट 1.391 हो जाएगा।
हालांकि अगर न्यूज़ीलैंड 150 रन का पीछा करते हुए 1 रन से भी हार जाता है तो उनका नेट रन रेट 1.094 हो जाएगा। यह एक ऐसी परिस्थिति होगी जिसे भारत कुछ बड़ी जीत के साथ काफ़ी आराम से इस नेट रन रेट से ऊपर जा सकता है।
अगर आने वाले दोनों मैच न्यूज़ीलैंड आराम से जीत जाता है तो उसे नेट रन रेट के समीकरण में पड़ने की जरूरत ही नहीं है क्योंकि वह 8 अंको के साथ लीग स्टेज को ख़त्म कर प्वाइंट टेबल में दूसरे स्थान पर रहेगा।

अफ़ग़ानिस्तान

अफ़ग़ानिस्तान ने अभी तक 4 मैच खेले हैं और 2 जीत के साथ उनके खाते में 4 प्वाइंट है। फ़िलहाल उनका नेट रन रेट 1.481 है। उन्हें सुपर 12 में अभी एक और मैच न्यूज़ीलैंड के खिलाफ़ खेलना है।
भारत से 66 रनों से हारने के बाद उन्हें अब बस सिर्फ़ न्यूज़ीलैंड को हराने की ज़रूरत नहीं है। उन्हें न्यूज़ीलैंड को एक ठीक-ठाक अंतर से हराने की आवश्यकता होगी। क्योंकि भारत अगर आने वाले किसी मैच में काफ़ी बड़े मार्जिन से जीत जीता है तो समीकरण बदल सकते हैं। जैसा कि ऊपर लिखा है कि अगर अफ़ग़ानिस्तान की टीम न्यूज़ीलैंड को 150 रन बना कर 12 रनों से भी हरा देती है तो उसका नेट रन रेट भारत से बेहतर होगा।

एस राजेश (@rajeshstats) ESPNcricinfo में स्टैट्स एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब-एडिटर राजन राज ने किया है।