मैच (12)
IND v ENG (1)
BPL 2023 (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
CWC Play-off (3)
PSL 2024 (1)
WPL (1)
फ़ीचर्स

रेटिंग्‍स : इशान 210, कोहली 113 और भारत 409

बांग्‍लादेश बनाम भारत के बीच तीसरे मैच में विराट कोहली ने भी लूटी महफ़‍िल

इशान किशन आज अलग ही रुप में नज़र आए  •  Associated Press

इशान किशन आज अलग ही रुप में नज़र आए  •  Associated Press

भारतीय टीम ने यह सीरीज़ ज़रूर 1-2 से गंवा दी लेकिन यह मैच भारतीय टीम के लिए यादगार बन गया। इशान किशन का पहला दोहरा शतक हो या विराट कोहली का लंबे समय बाद वनडे शतक या भारत का 400 के पार स्‍कोर, भारत के लिए आज इस मैच में सब कुछ सही गया। तो चलिए देखते हैं कि किस खिलाड़ी ने इस मैच में कितने अंक जुटाए हैं।

क्या सही और क्या ग़लत ?

इस मैच में सबसे सही तो इशान किशन का मैच खेलना रहा। पिछले दो मैचों में भारत जिस शुरुआत के लिए तरस रहा था वह आज आख़‍िरी मैच में जाकर मिली। इसके अलावा विराट कोहली ने भी लंबे समय बाद वनडे करियर का शतक लगाया।
अगर कुछ सही नहीं रहा तो वह यह कि भारतीय टीम अंतिम समय पर डेथ ओवरों में अधिक रन नहीं बना सकी।

प्लेयर रेटिंग्स (1-10, 10 सर्वाधिक)

शिखर धवन, 5 : शिखर धवन के लिए यह सीरीज़ बिल्‍कुल भी अच्‍छी नहीं गई है। बाएं हाथ के ओपनर के तौर पर उनके साथी इशान ने दोहरा शतक लगा दिया तो अब धवन को अपनी जगह के लिए भी सोचना होगा।
इशान किशन, 10 : 131 गेंद में 210 रन जिसमें 24 चौके और 10 छक्‍के शामिल रहे। सही मायने में तो इशान के लिए इस पारी के लिए 10 अंक भी कम हैं। उन्‍होंने अपने पहले शतक को ही दोहरे शतक में तब्‍दील कर दिया। वह वनडे में सबसे तेज़ दोहरा शतक लगाने वाले बल्‍लेबाज़ बने। वह आज ऐसी लय में थे कि जहां मारना चाहते थे पूरी तरह से सफल हो रहे थे। विराट अगर आज शतक लगा पाए हैं तो उसमें इशान की आक्रामक पारी का भी योगदान है। उन्‍होंने स्पिनरों को क्रीज़ पर डटने नहीं दिया। युवराज सिंह के स्‍लॉग स्‍वीप की भी इशान ने याद दिलाई। गेंदबाज़ जब बाउंसर डालते थे तो उनके पास इसका भी जवाब होता था। चाहे तो वह डीप मिडविकेट पर या अपर कट मारकर गेंद को बाउंड्री तक पहुंचा देते थे।
विराट कोहली, 9 : 2019 के बाद पहली बार कोहली ने वनडे में शतक लगाया। एक कैच छूटने के बाद उन्‍होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। वह एंकर की भूमिका निभाते दिखे और इशान को भी दूसरे छोर पर ग़लत शॉट खेलने से रोका। कोहली इस पारी में विटेंज कोहली नज़र आए। पांचवें स्‍टंप की गेंद पर जैसे वह पहले एक्‍स्‍ट्रा कवर के ऊपर से ड्राइव लगाते थे आज यह शॉट उन्‍होंने कई बार खेला। अब तो कोहली की बल्‍लेबाज़ी में स्‍लॉग स्‍वीप भी आ गई है।
श्रेयस अय्यर, 5 : श्रेयस ने अब तक इस सीरीज़ में बहुत अच्‍छा प्रदर्शन किया है, लेकिन आज उनके पास खुलकर खेलने का मौक़ा था। इससे पहले कि वह शुरू हो पाते वह एक अच्‍छे कैच पर आउट हो गए।
के एल राहुल, 6 : बल्‍लेबाज़ी में वह ज़रूर नहीं चल पाए लेकिन उन्‍होंने अच्‍छी कप्‍तानी करके दिखाई। जब भी साझेदारी पनपती दिखी तो उन्‍होंने अपने मुख्‍य गेंदबाज़ों को आक्रमण पर लगाया और इसका नतीज़ा विकेट के रूप में मिला।
वॉशिंगटन सुंदर, 8 : आख़‍िरी के ओवर में अगर किसी ने रन बनाए तो वह सुंदर थे। उन्‍होंने तेज़ी से रन बनाते हुए भारत को 400 रनों के पार पहुंचाया, क्‍योंकि उससे पहले भारत को तीन लगातार झटके लग चुके थे। उन्हें एक ही ओवर डालने के लिए मिला जिसमें उन्होंने महमुदउल्लाह का विकेट चटकाया।
अक्षर पटेल, 8 : बल्‍लेबाज़ी में अक्षर ने ज़रूर 20 रन बनाए लेकिन गेंदबाज़ी में उन्‍होंने कमाल कर दिया। उन्‍होंने पारी का पहला विकेट निकाला और फ‍िर मुशफ़‍िकुर रहीम को बोल्‍ड किया। एक तरह से उन्‍होंने बांग्‍लादेश को लय नहीं बनाने दिया।
शार्दुल ठाकुर, 8 : शार्दुल ठाकुर साधारण से गेंदबाज़ लगते हैं लेकिन जब गेंद उनके हाथ से निकलती है तो कमाल ही करती है। इस बार भी उन्‍होंने प्‍लेयर ऑफ़ द सीरीज़ बने मेहदी हसन मिराज़ को सीरीज़ में पहली बार आउट किया, तो अफ़‍िफ़ हुसैन और इबादत हुसैन के भी विकेट निकाले। वह लगातार गेंदों को लेंथ पर बाहर निकालते थे और कोई एक गेंद तेजी से अंदर आकर बल्‍लेबाज़ों को फंसा रही थी।
कुलदीप यादव, 7 : कुलदीप यादव को एक ही विकेट मिला लेकिन यह उनके प्रदर्शन को नहीं बताता है। वह लगातार तेज़ गति से गेंद को अंदर और बाहर निकाल रहे थे। कई बार तो बल्‍लेबाज़ों को समझ ही नहीं आ रहा था कि यह गेंद बाहर जाएगी या अंदर आएगी। उनकी यही क़ा‍बिलियत ने उन्‍हें अलग जगह पर खड़ा किया।
मोहम्मद सिराज, 7 : मोहम्‍मद स‍िराज को आज पांच ही ओवर मिले जिसमें उन्‍होंने लिटन दास का अहम विकेट चटकाया। इसके अलावा उन्‍होंने दो शानदार कैच भी लपके। वह अपनी स्‍क्रैम्‍बल सीम से लगातार बल्‍लेबाज़ों को परेशान कर रहे हें और ऐसा उन्‍होंने आज भी किया।
उमरान मलिक, 7 : उमरान मलिक ने अपनी तेज़ गति से लगातार बल्‍लेबाज़ों को परेशान किया है। उनकी लेंथ गेंद को खेलना बड़ा मुश्किल साबित हुआ। आज भी उन्‍होंने अच्‍छी लाइन और लेंथ से गेंदबाज़ी की। जिसका इनाम उन्‍हें यासिर अली और मुस्‍तफ़‍िज़ुर रहमान के विकेट के तौर पर मिला।

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26