मैच (13)
IND v SA [W] (1)
T20 वर्ल्ड कप (3)
CE Cup (3)
T20 Blast (6)
फ़ीचर्स

क्या निर्णायक मुक़ाबले के लिए SRH के पास है स्पिन की समस्या का समाधान?

SRH अब तक हसरंगा का विकल्प नहीं ख़ोज पाई है

IPL 2024 की शुरुआत में सनराइज़र्स हैदराबाद के सामने ओपनिंग कॉम्बिनेशन को सुनिश्चित करने के लिए असमंजस की स्थिति थी। फिर चोट के चलते वनिंदु हसरंगा के पूरे सीज़न से बाहर होने के चलते SRH के लिए यह संकट और बढ़ गया।
हसरंगा के विकल्प विजयकांत वियसकांत को आज़माने से पहले SRH ने मयंक मार्कण्डे को मौक़ा दिया। लेकिन यह दोनों ही वैसा प्रभाव नहीं छोड़ पाए जिसकी उम्मीद SRH को थी। शाहबाज़ अहमद SRH के लिए एक बल्लेबाज़ के तौर पर खेल रहे हैं लेकिन जब भी उन्हें गेंद थमाई गई है वह भी महंगे साबित हुए हैं।
ऐसे में हम कुछ वैसे विकल्पों की ओर देखते हैं जिनका इस्तेमाल SRH शुक्रवार को राजस्थान रॉयल्स (RR) के ख़िलाफ़ कर सकती है।

क्या वियसकांत मिडिल ओवर्स में प्रभाव छोड़ पाएंगे?

22 वर्षीय लेग स्पिनर वियसकांत लंका प्रीमियर लीग (LPL) की सफलता की सबसे बड़ी कहानियां में से एक हैं। उन्होंने ILT20 2024 में महेला जयवर्दना और RR में कुमार संगकारा को भी काफ़ी प्रभावित किया था। वह पिछले सीज़न IPL में नेट गेंदबाज़ की भूमिका में थे। हालांकि तीन मैच का सैंपल बेहद छोटा है लेकिन अब तक IPL में उनकी गेंदबाज़ी में विकेट लेने की क्षमता की झलक नहीं दिखाई दी है।
वियसकांत ने अब तक कुल 10 ओवर किए हैं और 8.60 की इकोनॉमी से एक ही विकेट ले पाए हैं। मार्कण्डे और शाहबाज़ की इकोनॉमी तो इससे भी ख़राब है, उन्होंने 10 रन प्रति ओवर के अधिक की दर से रन लुटाए हैं। जबकि एक अन्य ऑफ़ स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर को इस सीज़न सिर्फ़ दो ही मैच खेलने का मौक़ा मिला है, उन्होंने अपना अंतिम मैच 20 अप्रैल को खेला था।
इस सीज़न में SRH के स्पिनर्स की औसत 54.38 और इकोनॉमी 11.20 की है, जो कि किसी भी अन्य टीम की तुलना में सबसे ख़राब है। SRH ने चेन्नई में जब अपना पिछला मैच खेला था तब उन्होंने मार्कण्डे को बाहर बैठाया था और ऑफ़ कटर डालने वाले जयदेव उनादकट में भरोसा जताते हुए एक अतिरिक्त बल्लेबाज़ के साथ जाने का फ़ैसला किया था। क्या शुक्रवार को भी SRH ऐसा ही कोई निर्णय लेगी?

क्या मारक्रम या फ़िलिप्स की जगह बनेगी?

अगर SRH अतिरिक्त विदेशी बल्लेबाज़ के साथ जाती है तब वह एडन मारक्रम या ग्लेन फ़िलिप्स में से किसी एक को मौक़ा दे सकती है। दोनों ही ऑफ़ स्पिन डाल सकते हैं लेकिन RR के पास मध्य क्रम में शिमरॉन हेटमायर के रूप में सिर्फ़ एक ही बाएं हाथ का बल्लेबाज़ है। RR भी उन्हें बल्लेबाज़ी पर भेजने में जितनी संभव हो उतनी देर करती है। यह भी सोचना काफ़ी मुश्किल है कि SRH पैट कमिंस और भुवनेश्वर कुमार के रहते हुए यशस्वी जायसवाल के सामने आक्रमण पर किसी ऑफ़ स्पिनर को लेकर आएगी।
फ़िलिप्स ने इस सीज़न एक भी मैच नहीं खेला है और उन्होंने अंतिम बार मार्च में क्रिकेट खेली थी। जबकि मारक्रम ने इस सीज़न नौ मैच खेले हैं और नंबर चार पर उनकी वापसी हो सकती है। मारक्रम के आने से मध्य क्रम में नितीश कुमार रेड्डी और शाहबाज़ के ऊपर से SRH की निर्भरता कम हो सकती है। शाहबाज़ को मारक्रम की अनुपस्थिति में ऊपर बल्लेबाज़ी करने भेजा गया था।

यानसन या फ़ारूक़ी?

फ़िलिप्स की तरह ही अफ़ग़ानिस्तान के बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ फ़ज़लहक़ फ़ारूक़ी IPL 2024 में अब तक एक भी मुक़ाबला नहीं खेल पाए हैं। जबकि मार्को यानसन इस सीज़न खेले तीन मैचों में अपनी लय प्राप्त नहीं कर पाए। चेपॉक पर नई गेंद से स्विंग मिलना अपेक्षित नहीं है, ऐसे में अगर टी नटराजन का साथ देने के लिए SRH एक अन्य बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ को उतारने का मन बनाती है तब उनादकट उस रेस में इसलिए आगे होंगे क्योंकि उनके पास मिश्रण के साथ गेंदबाज़ी करने की क्षमता है।

देवरायण मुथु ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं