मैच (13)
IND v SA [W] (1)
T20 वर्ल्ड कप (3)
CE Cup (3)
T20 Blast (6)
ख़बरें

अली ख़ान : हम टी20 विश्व कप में भी उलटफेर करेंगे

"हम USA को विश्व क्रिकेट के मानचित्र पर अंकित करना चाहते हैं"

Ali Khan picked up three wickets for just 25 runs, USA vs Bangladesh, 2nd T20I, Prairie View, May 23, 2024

अली ख़ान ने 25 रन देकर तीन विकेट लिए  •  USA Cricket

बांग्लादेश के ख़िलाफ़ संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) द्वारा टी20 श्रृंखला जीतने के बाद तेज़ गेंदबाज़ अली ख़ान ने कहा है कि यह सीरीज़ जीत महज़ एक संयोग नहीं है और उनकी टीम आगामी टी20 विश्व कप में भी कई उलटफेर करने के लिए तैयार है।
ख़ान ने कहा, "हम भूखे हैं और हमारे रास्ते में आने वाली हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं। यह समय अभी हमें ज़रूरत के हिसाब से बदलाव और सामंजस्य बैठाने का है। टीम काफ़ी संतुलित लग रही है और खिलाड़ियों के भीतर भी जीत की भूख है। मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि इस बार USA ज़रूर कुछ उलटफेर करेगी।"
"हम USA को विश्व क्रिकेट के मानचित्र पर अंकित करना चाहते हैं। जब आप किसी बड़ी टीम के ख़िलाफ़ जीत दर्ज करते हैं तो लोग कई बार इसे संयोग करार दे देते हैं।लेकिन एक ही सीरीज़ में बार बार पटखनी देना संयोग नहीं है। अगर हमें अवसर मिले तो हम भी अपना टैलेंट और स्किल दिखा सकते हैं।"
ख़ान इस श्रृंखला में चोट के बाद वापसी कर रहे थे और उन्होंने दूसरे टी20आई में तीन विकेट लिए, जिसके चलते उन्हें प्लेयर ऑफ़ द मैच भी चुना गया। नई गेंद से स्पेल करने के बाद वह 18वें ओवर में गेंदबाज़ी के लिए आए। तब बांग्लादेश को तीन ओवर में जीत के लिए सिर्फ़ 21 रन चाहिए था और अनुभवी शाकिब अल हसन भी क्रीज़ पर मौजूद थे। ख़ान ने पहली ही गेंद पर शाकिब को पवेलियन चलता कर दिया और उसी ओवर में उन्होंने तंज़िम हसन का भी शिकार कर लिया। 145 के लक्ष्य का पीछा कर रही बांग्लादेश इन झटकों से उबर ही नहीं पाई और ख़ान ने अंतिम ओवर में बांग्लादेश की पारी का अंतिम विकेट लेकर विपक्षी टीम को 138 के स्कोर पर समेट दिया।
ख़ान ने शाकिब का विकेट लेने की रणनीति साझा करते हुए कहा, "कप्तान (मोनक पटेल) ने मुझे तैयार रहने के लिए कहा था। मुझे पता था कि परिस्थिति के हिसाब से मुझे 17वां और 19वां या 18वां और 20वां ओवर करना पड़ सकता है। मैं जब गेंदबाज़ी के लिए आया तब हमें ब्रेकथ्रू मिला ही था, ऐसे में बांग्लादेश पर दबाव बन चुका था। विकेट धीमी थी और विपक्षी टीम यह अपेक्षा कर रही थी कि मैं तेज़ गेंद डालूंगा। इसीलिए उन्होंने ज़ोर से बल्ला घुमाने की रणनीति अपनाई और इसके चलते गेंद ने शाकिब के बल्ले का बाहरी किनारा ले लिया। मेरे रणनीति यही थी कि मैं उन्हें हवा के विपरीत शॉट खेलने पर मजबूर करूं। हवा शाकिब के ऑफ़ साइड की ओर बह रही थी इसलिए मैंने गेंद को शाकिब से उसी दिशा में दूर रखा और मुझे उनका विकेट मिल गया।"
पहले मैच में ख़ान ने एक विकेट तो लिया था लेकिन उन्होंने 49 रन भी लुटाए थे। हालांकि उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी लय प्राप्त करने के लिए थोड़ा समय चाहिए था।
"मैं चोट के बाद वापसी कर रहा था। मैं परिस्थिति के हिसाब से ख़ुद को ढालने की कोशिश कर रहा था। पहले मैच में मेरा प्रदर्शन वैसा नहीं था जैसा मैं पसंद करता क्योंकि मैं अमूमन इतना महंगा साबित नहीं होता। वो वापसी के बाद मेरा पहला मैच था। हालांकि मैं बहाना नहीं देना चाहता लेकिन उस मैच से जो मुझे सबक मिला उसे मैंने इस मैच में अमली जामा पहनाने की कोशिश की। विश्व कप आ रहा है, हमारे पास अधिक समय नहीं है। हमें अभी काफ़ी सुधार करना है।"